Forgot your password?

Enter the email address for your account and we'll send you a verification to reset your password.

Your email address
Your new password
Cancel
अभिनेता संजय दत्त का कहना है कि उनकी पहली फिल्म 'रॉकी' ने उनमें अभिनेता बनने की समझ पैदा की। फिल्म 1981 में रिलीज हुई थी। संजय ने ट्वीट कर कहा, "वह फिल्म जिसने मुझ में अभिनेता बनने की समझ पैदा की, वह 'रॉकी' थी। आज उसे 37 साल हो गए और जब मैं पीछे मुड़कर देखता हूं तो मेरा दिल इन सालों में मिले प्यार और प्रशंसा से भर जाता है।"
'रॉकी' के निर्देशक संजय के पिता सुनील दत्ता थे। फिल्म में रीना रॉय, टिना मुनीम, अमजद खान, राखी, शक्ति कपूर और अरुणा ईरानी जैसे कलाकार थे।
संजय की निजी और पेशेवर जिंदगी उतार चढ़ाव वाली रही है।
उन्हें 'खलनायक', 'सड़क', 'साजन', 'वास्तव' और 'धमाल' जैसे फिल्म में उनके अभिनय के लिए पसंद किया गया। लेकिन 'मुन्ना भाई' की श्रंखला ने लोगों के दिलों में उन्हें एक अलग स्थान दिया। 'मुन्ना भाई' के रूप में बॉलीवुड में उनकी दूसरी पारी की शुरुआत हुई।
हाल ही में संजय दत्त कि बायोपिक आने वाली है| जिसमें रणबीर कपूर संजय के रोल निभाते हुए दिखेंगे |इसी के चलते संजय दत्त आज कल ख़बरों में है| यह फिल्म संजय दत्त कि पर्सनल और प्रोफेशनल ज़िन्दगी में आये उतार चढाव से ताल्लुक रखती है|
YOUR REACTION
  • 0
  • 0
  • 0
  • 0
  • 0
  • 0

Add you Response

  • Please add your comment.