Forgot your password?

Enter the email address for your account and we'll send you a verification to reset your password.

Your email address
Your new password
Cancel
मधुमेह के मरीज अब रोजाना बेहिचक अंडे खा सकते हैं और ऐसा करने में उन्हें कोई नुकसान नहीं होने वाला है। एक नए शोध में पता चला है कि हफ्ते में 12 अंडे तक खाने से मधुमेह की पूर्व अवस्था वाले अथवा टाइप टू डायबटिज वाले मरीजों को दिल की बीमारियों का कोई खतरा नहीं है। दरअसल अंडों में कोलेस्टेरोल का स्तर अधिक पाया जाता है, जिसकी वजह से मधुमेह के मरीजों को आम तौर पर अंडे से बचने की सलाह दी जाती है।
अमेरिकन जर्नल ऑफ क्लीनिकल न्यूट्रीशन में प्रकाशित एक शोध के हवाले से बताया गया है कि अंडों का रक्त के कोलेस्टेरोल के स्तर पर कोई असर नहीं पड़ता है।
इस शोध के सह लेखक और सिडनी विश्वविद्यालय के निकोलस फुलर ने कहा, "मधुमेह की पूर्व अवस्था और टाइप-2 मधुमेह के मरीजों के लिए अंडे खाने के सुरक्षित स्तर के बारे में सलाह में मतभेद के बावजूद हमारा शोध इंगित करता है कि अगर अंडे आपके खानपान की शैली का हिस्सा हैं, तो इन्हें खाने से परहेज मत करिए।"
उन्होंने कहा कि इस शोध में संतृप्त वसा अम्ल जैसे मक्खन के स्थान पर एकल संतृप्त वसा अम्ल खासकर एवोकेडो तथा आलिव ऑयल अपनाने की सलाह दी गई है।
उन्होंने कहा कि अंडे प्रोटीन और सूक्ष्म पोषक तत्वों को अच्छा साधन हैं और इनके खाने से अनेक फायदे होते हैं, जो आंखों तथा दिल की सेहत के लिए अच्छे तो हैं ही, ये रक्त वाहिकाओं को स्वस्थ रखने में भी मददगार हैं और गर्भावस्था में इन्हें खाने की सलाह दी जाती है।
YOUR REACTION
  • 0
  • 0
  • 0
  • 0
  • 0
  • 0

Add you Response

  • Please add your comment.